Bhagat Singh: भगतसिंह के विचारों की रोशनी में देश के हालात देखा, परखा और समझा 

Bhagat Singh: शहादत दिवस पर वैचारिक संगठनों, संस्थाओं और जन समूहों ने जगह-जगह कार्यक्रम आयोजित किये प्रभात फेरी, वैचारिक गोष्ठी और परिचर्चा आयोजित कर शहीदों को दी श्रद्धांजलि   भोपाल। … Read More

History: प्रो हबीब और थापर जैसे इतिहासकारों पर झूठा आरोप लगा रहे हैं विजय मनोहर तिवारी

(पिछले दिनों मध्य प्रदेश के सूचना आयुक्त विजय मनोहर तिवारी का एक पत्र पढ़ने—लिखने वाली जमात के साथ इतिहास (History) को खबर की सनसनी में मिलाकर चटखारे लेने वालों तक … Read More

संतुलन साधने की कला

सचिन श्रीवास्तव कुछ मित्रों में संतुलन साधने की जबर्दस्त कला होती है। वे एक ही समय में नदी में तैर भी रहे होते हैं और स्वयं को गीला होने से … Read More

​कविता नहीं

सचिन श्रीवास्तव जब अपराधी बेलगाम हैंऔर सत्ताएं खुद को अक्षुण्य बनाए रखने के लिए रच रही हैं नित नए प्रपंचनायकों ने खुद को शामिल कर लिया दरबारियों मेंकवि, कलमकार, संस्कृतिकर्मी, … Read More

संस्कृति विभाग का ​कल्चर: महज 12 संस्थाओं के खाते में गया 60 प्रतिशत से ज्यादा अनुदान

मध्य प्रदेश की साहित्य संस्कृति-1 – चंद संस्थाओं और व्यक्तियों के बीच कैसे सिमट गया भोपाल और प्रदेश का साहित्यिक-सांस्कृतिक माहौल – संस्कृति निर्माण की कोशिश के अनुदान से हो … Read More

कैसे जानें कि घर से दूर आपका बच्चा सोशल मीडिया और इंटरनेट की गलियों में कहां भटक रहा है?

6 से 22 साल की उम्र के बच्चे जिस तेजी से सोशल मीडिया और तकनीक की गिरफ्त में आ रहे हैं, वह उनके मां-बाप के लिए चिंता का विषय है। हालात … Read More

एकध्रुवीय विश्व से बेहतर है बहुध्रुवीय विश्व का होना: विनीत तिवारी

प्रगतिशील लेखक संघ की ओर से इंदौर में आयोजित की गई “चीन गरीबी मुक्त भविष्य का स्वप्न” विषय पर परिचर्चा इंदौर (मध्य प्रदेश)। चीन ने योजनाबद्ध तरीके से अपने देश … Read More

।। सभी किस्म की सत्ताओं के नाम ।।

(शमशेर बहादुर सिंह को पढ़ते हुए)सचिन श्रीवास्तवएक आवाज। एक विरोध। बौना सा, अदना सा। मुट्ठी भर आंखें उनकी। हांफते हुए प्रतिरोध की तख्ती उठाए हैं। कुछ देर बाद खांसने लगेंगे। … Read More

“एवेंजर्स: एंडगेम” की सफलता उर्फ हर वक्त में बाजार अपना रास्ता निकाल लेता है

सचिन श्रीवास्तव इस चुनावी दौर में जब विज्ञापन के धुरंधरों, मैनेजमेंट के माहिर और इवेंट मार्केटिंग के बादशाहों के चेहरों पर पसीने की बूंदें छलक रही हैं। देश के सबसे … Read More

दस्तक संवाद : सोशल मीडिया आभासी दुनिया का एक वास्तविक चेहरा

नवनीत पांडे “अगर फेसबुक का सबसे अच्छा और सार्थक इस्तेमाल अरुण देव समालोचन के जरिये कर रहे हैं तो व्हाट्सअप्प का बढ़िया इस्तेमाल भोपाल के अनिल करमेले अमिताभ मिश्र अंजू … Read More