Aishbagh Janta Quarter: भोपाल के 600 परिवार की 3000 जिंदगियां खतरे में

Aishbagh Janta Quarter के बाशिंदों के जर्जर मकान बने मुसीबत, जाएं तो कहां जाएं भोपाल। कोरोना काल में काफी कुछ बदला है। आवागमन के साधनों से लेकर चौक चौराहों पर … Read More

Youth Future: यूथ का आज और कल दोनों खराब!

• एडवोकेट राकेश महाले चीन की चिंता यह है कि उनका देश बूढ़ा हो रहा है और भारत में सरकार को अपनी आधी युवा आबादी (Youth Future) की बिल्कुल भी … Read More

Rapid Study: कोरोना की दूसरी लहर का महिलाओं और बच्चों पर पड़ा सबसे बुरा असर

महज सात फीसदी बच्चे कर पा रहे आन लाइन क्लास: EKA Rapid Study एका की कानूनी सहायता ईकाई परवाज ने किया कोरोना लॉकडाउन पर त्वरित अध्ययन शहरी गरीबों पर किए … Read More

AK Pankaj: अश्विनी कुमार पंकज से संविधान लाइव की बातचीत

उत्पादन, उपभोग और आदिवासी समाज विषय पर AK Pankaj से संविधान लाइव की बातचीत यह बातचीत मुख्य रूप से तीन सवालों पर केंद्रित है। 1. मौजूदा दुनिया में उत्पादन के … Read More

Police Atrocity: पीट पीट कर अधमरा किया, झूठा अपराध कायम कर जेल भेजा, जेल में मौत

— तस्वीर राजधानी भोपाल में पुलिस बर्रबता (police atrocity) की यह एक जीती-जागती कहानी है। थाने में कंजर समुदाय के व्यक्ति तुलसीराम को इस कदर पीटा गया कि बाद में … Read More

Bastar: पगलाया विकास, जल-जगंल-जमीन पर कब्जा और मारे जाते आदिवासी

• प्रेमसिंह सियाग तीन दिन पहले सरकारी कैंप का विरोध कर रहे सिलगेर, बस्तर (Bastar) में आदिवासी लोगों की हजारों की भीड़ पर पुलिस ने फायरिंग कर दी। इसमें तीन … Read More

Medha Patkar: किसान आंदोलन के 6 माह के मायने

Medha Patkar: किसान आंदोलन के 6 माह के मायने संविधान लाइव के आंदोलन अपडेट में आज मेधा पाटकर। आज ऐतिहासिक किसान आंदोलन को छह महीने हो गए हैं और कल … Read More

Violence Against Women: दुनिया भर में हिंसा के भंवर में फंसी हैं महिलाएं

तमाम देशों में महिलाओं से हिंसा (Violence Against Women) है संस्कृति का हिस्सा विश्व स्वास्थ्य संगठन के ताजा शोध के मुताबिक दुनिया भर में हर तीसरी महिला ने शारीरिक या … Read More

LGBTQ: अमेरिका में एलजीबीटीक्यू के लिए सबसे बुरा साल है 2021

अगर आपको लगता है कि अमेरिका में एलजीबीटीक्यू (LGBTQ) समुदाय के अधिकार सुरक्षित हैं और धीरे धीरे ही सही वहां उन्हें स्वतंत्रता मिल रही है, तो आप गलत हैं। असल … Read More