निराली और कार्तिक शाह : इंटरनेट पर छाने लगी है संगीत की निराली खुमारी

2 सितंबर 2016 के राजस्थान ​पत्रिका में प्रकाशित

सचिन श्रीवास्तव 
यूट्यूब पर बीते चार दिनों से एक वीडियो सांग ने धूम मचा रखी  है। यह गीत दिवंगत पॉप स्टार माइकल जैक्सन को उनके जन्मदिन पर श्रद्वांजलि के तौर पर डाला गया है। संगीत समूह माटी बानी ने वीडियो में माइकल के बहुचर्चित गीत “हील द वर्ल्ड” को दुनिया भर के बच्चों के साथ फिर से शूट किया गया है। युद्ध के खिलाफ और शांति के पक्ष में खड़े इस गीत के लिए दुनियाभर के 45 कलाकार एक मंच पर आए और कारनामे को अंजाम दिया निराली और कार्तिक शाह ने।

निराली शाह
जन्म: 5 दिसंबर 1983
शुरुआती पढ़ाई अहमदाबाद के एनआर स्कूल में। घर में संगीत का माहौल। मां भावना सिंगर हैं, तो भाई सुरिल तबला बजाते हैं।

कार्तिक शाह
जन्म: 28 अगस्त 1978
शुरुआती पढ़ाई अहमदाबाद के जीएलएस स्कूल से। संगीत की औपचारिक शिक्षा नहीं। गजल लिखते हैं। जगजीत सिंह की गायिकी के मुरीद।

2002 में एक प्रोजेक्ट के सिलसिले में कार्तिक से मिली थीं निराली
2007 में कार्तिक-निराली ने शादी की
2012 में माटी-बानी का पहला गीत “मितवा” यूट्यब पर आया

इंडियन क्लासिकल म्यूजिक की दीवानी
पत्रिका से बातचीत में निराली ने बताया कि उन्हें इंडियन क्लासिकल म्यूजिक बेहद पसंद है। उन्होंने बचपन से ही गायन की औपचारिक तालीम लेना शुरू कर दिया था। खुद उनकी मां एक अच्छी गायिका हैं, सो घर में माहौल भी मिला। वे पंडित जसराज की मुरीद हैं। उन्हें दुनिया भर का फोक म्यूजिक भी बेहद पसंद है। इसकी बानगी उनके गानों में भी मिलती है।

यह भी पढ़ें:  24 सितंबर 2016 का राजस्थान पत्रिका का सोशल मीडिया फ्लैप

कैसे बना हील द वर्ल्ड
“हील द वर्ल्ड” के बारे में निराली बताती हैं कि पिछले प्रोजेक्ट के बाद वे लगातार कार्तिक के साथ आइडिया शेयर कर रही थीं। इस बीच कार्तिक ने माइकल जैक्सन के “हील द वर्ल्ड” का प्रस्ताव रखा। इसके बाद दुनियाभर के कलाकारों से संपर्क किया गया और करीब 9 महीने की मेहनत के बाद यह गीत सामने आया।

माटी बानी की शुरुआत
कार्तिक और निराली ने 2012 में मितवा गीत के साथ माटी बानी की शुरुआत की। इसे यूट्यूब पर खूब सराहा गया। अब तक इसे 7 लाख से ज्यादा लोग देख चुके हैं। पहले प्रयोग से उन्हें हौसला मिला, इसी राह पर बढ़ चले। अब तक माटी बानी के 14 गीत आ चुके हैं।

नए दौर का संगीत
निराली और कार्तिक इंटरनेट के जरिये ही अपना ज्यादातर काम करते हैं। पहले वे कोई भी गाना तय करते हैं। इसके बाद उसके लिए आर्टिस्ट तय करते हैं। कलाकार तय होने के बाद हर कलाकार के हिस्से में गाने का कौन सा हिस्सा होगा, यह तय किया जाता है। फिर इन्हें शूट कर एक-दूसरे के साथ इंटरनेट पर शेयर किया जाता है। इसके बाद सबसे बेहतरीन हिस्सों को एक साथ जोड़कर इंटरनेट पर रिलीज किया जाता है।

यह भी पढ़ें:  रैमी मेलिक : पहली बार मिला सर्वश्रेष्ठ अभिनय के लिए एम्मी अवार्ड , प्लीज! कहो कि तुमने भी मुझे देखा

हर गाना है एक कैंपेन
निराली और कार्तिक के लिए हर गाना एक कैंपेन की तरह होता है। इसे वे एक प्रोजेक्ट की तरह लेते हैं, जो महीनों तक जारी रहता है। रिलीज से पहले गाने को विभिन्न सोशल साइट पर पहुंचाया जाता है और उसके फीडबैक के आधार पर आगे की तैयारी की जाती है।

अच्छी पाठक भी
निराली एक बेहतरीन आर्टिस्ट होने के साथ साहित्य की अच्छी पाठक हैं। हाल ही में उन्होंने रूसी उपन्यासकार ऐन रेंड की द फाउंटेनहेड पढ़ी है। आगे वे ऐन की ही एक अन्य उपन्यास एटलस श्रग्ड पढऩा चाहती हैं।