रफ्तार से मौत : आधे से ज्यादा सड़क हादसे होते हैं हाइवे पर

सचिन श्रीवास्तवराष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य एवं न्यूरो विज्ञान संस्थान ने भारत में सड़क सुरक्षा के विश्लेषण पर एक रिपोर्ट जारी की है। इसके मुताबिक, देश के 52.4 प्रतिशत हादसे हाइवे पर होते हैं।
—————————
पांच राज्यों में सबसे ज्यादा
46.8 प्रतिशत सड़क हादसे पांच दक्षिणी राज्यों कर्नाटक, तमिलनाडु, केरल, आंध्र प्रदेश और महाराष्ट्र में होते हैं
80 प्रतिशत मामलों में मरने या घायल होने वाले पैदल चालक, दोपहिया चालक या साइकिल सवार होते हैं
————————-
कई अध्ययनों का निष्कर्ष
20 प्रतिशत ज्यादा मौत होती हैं सड़क हादसों में सरकारी आंकड़ों के मुकाबले
50 प्रतिशत ज्यादा लोग होते हैं घायल सरकारी आंकड़ों के मुकाबले
—————————-
5 लाख से ज्यादा आबादी वाले शहरों में कम हादसे और मौत
22.1 प्रतिशत हादसे
11.3 प्रतिशत मौत
————————————-
हाइवे पर हादसे ज्यादा
52.4 प्रतिशत सड़क हादसे होते हैं हाइवे पर
63 प्रतिशत मौत होती हैं हाइवे पर
4.84 प्रतिशत है देश की कुल सड़क में हाइवे की हिस्सेदारी

यह भी पढ़ें:  उदारीकरण का असर : दलित, आदिवासी और मुसलमान सार्वजनिक सेवाओं की पहुंच से बाहर