मैदान के बाहर के खेलों से परिचित कराएगी एबी की आत्मकथा

1 सितंबर 2016 के राजस्थान ​पत्रिका में प्रकाशित

सचिन श्रीवास्तव
किसी एक इंसान की शख्सियत के कितने पहलू हो सकते हैं, इसकी जिंदा मिसाल विस्फोटक दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज एबी डि विलियर्स हैं। 8 सितंबर को उनकी आत्मकथा “एबी: द ऑटोबायोग्राफी” अंग्रेजी और अफ्रीकी भाषा में रिलीज हो रही है। इस किताब की रिलीज के साथ ही उनके हुनरों की लंबी फेहरिस्त में लेखकीय क्षमता का भी जिक्र भी होने लगेगा। एबी के प्रशंसकों को उनकी दास्तान के बारे में जबर्दस्त दिलचस्पी है। 31 अगस्त को किताब के प्रकाशक ने रिलीज की तारीख का ऐलान किया, तो वे ट्विटर पर ट्रेंड करने लगे। एबी की आत्मकथा फिलहाल दक्षिण अफ्रीका के अलावा चार देशों, ब्रिटेन, न्यूजीलैंड, ऑस्ट्रेलिया और भारत में रिलीज होगी।

एबी डी विलियर्स
जन्म: 17 फरवरी 1984
पत्नी डेनियल स्वार्ट। बेटे का नाम खुद के शुरुआती नाम पर अब्राहम रखा है।
मिस्टर 360 और सुपरमैन के नामों से पुकारे जाने वाले अब्राहम बैंजामिन डि विलियर्स ने  17 दिसंबर 2004 को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट कॅरियर शुरू किया। वे इसी साल मार्च में टी20 और जून में वनडे से संन्यास ले चुके हैं।

यह भी पढ़ें:  सेरेना विलियम्स: 308वीं जीत के साथ फेडरर को पछाड़ा

37.2 लाख लोग फॉलो करते हैं उन्हें ट्विटर पर
27.32 लाख लोगों ने लाइक किया है एबी का आधिकारिक फेसबुक पेज
251 हस्तियों को ट्विटर पर फॉलो करते हैं एबी
35 से ज्यादा राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय बल्लेबाजी रिकॉर्ड हैं एबी डि विलियर्स के नाम

अच्छे गिटार प्लेयर और गायक भी
एबी अच्छे गिटार वादक और गायक भी हैं। 2010 में उन्होंने अपना एक बाईलिंग्अल पॉप अलबम माक जोउ ड्रोम वार जारी किया था। इसमें उनके दोस्त और साउथ अफ्रीका के मशहूर गायक एम्पी डू प्रीज उनके साथ थे।

खेलों का सुपरमैन
निजी बातचीत में एबी के दोस्त उन्हें सुपरमैन के नाम से पुकारते हैं। इसकी वजह है बतौर खिलाड़ी उनकी विभिन्न खेलों में महारत। एबी दक्षिण अफ्रीका की जूनियर नेशनल हॉकी टीम के लिए चुने गए थे। वे जूनियर नेशनल फुटबॉल टीम के भी सदस्य रह चुके हैं। साउथ अफ्रीका की जूनियर रग्बी टीम के कप्तान रह चुके एबी के नाम स्कूली तैराकी के छह राष्ट्रीय रिकॉर्ड हैं। वे अच्छे टेनिस खिलाड़ी भी हैं और दक्षिण अफ्रीका की जूनियर डेविस कप टीम के सदस्य रह चुके हैं। उन्होंने 100 मीटर की दौड़ में देश का जूनियर एथलीट रिकॉर्ड बनाया था। वे राष्ट्रीय अंडर-19 बैडमिंटन चैंपियन रह चुके हैं।

यह भी पढ़ें:  भारतीय स्पिन परंपरा का नया जादूगर रवि चंद्रन अश्विन

विज्ञान के अच्छे छात्र
मैनचेस्टर यूनाइटेड के जबर्दस्त फैन एबी ने स्कूली दिनों में साइंस प्रोजेक्ट के लिए नेल्सन मंडेला से एक राष्ट्रीय मेडल ग्रहण किया था।

आत्मकथा में सामने आएगी कारोबारी समझ
प्रकाशक के अनुसार, किताब में एबी के जीवन के महत्वपूर्ण पलों और उनके प्रभावों का जिक्र है। इसमें बचपन, स्कूलिंग से लेकर हालिया सफलता और बतौर वनडे कप्तान विवादों का ब्योरा है। वार्मबार्थ में पले-बढ़े एबी के परिवार में खेल के माहौल और उनकी टेनिस, रग्बी और क्रिकेट में महारत के कुछ अनछुए पहलू इसमें शामिल हैं। इसमें उनके संगीत प्रेम और कारोबारी समझ का भी खुलासा होगा।