खनन क्षेत्र में निवेश: 24 स्थान नीचे आया भारत

सचिन श्रीवास्तव
खनन क्षेत्र में निवेशकों को आकर्षित करने के मामले में भारत पिछले साल के मुकाबले 24 स्थान नीचे आ गया है।

खनन कंपनियों पर फ्राशर इंस्टीट्यूट की सालाना रिपोर्ट
97वें
स्थान पर पहुंच गया है भारत निवेशकों को आकर्षित करने के मामले में
73वें स्थान पर था साल 2015 में इस सूची में
10 सबसे निचले क्रम के देशों में आ गया है अफगानिस्तान, जिम्बाब्वे और मोजाम्बिक के साथ
104 देशों के खनन निवेश के आंकड़ों पर आधारित रिपोर्ट

07 वजहें पिछडऩे की
1- नीतियों के बारे में धारणा
2- प्रशासनिक अनिश्चितता
3- मौजूदा नियम और उनकी व्याख्या
4- बहुत ज्यादा नियम
5- टैक्स की अलग-अलग दरें
6- कानूनी ढांचा
7- जमीन अधिग्रहण में अनिश्चितता

यह भी पढ़ें:  शांत, चुप और चौंकाने में माहिर दुनिया की सबसे ताकत अर्थशास्त्री