State Election 2023

State Election 2023: पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों की तारीखों का ऐलान

State Election 2023: राजस्थान में 23 नवंबर, मध्य प्रदेश में 17 नवंबर, छत्तीसगढ़ में 7 नवंबर और 17 नवंबर, तेलंगाना में 30 नवंबर को होगी वोटिंग

3 दिसंबर को आएंगे सभी पांचों राज्यों के चुनावी नतीजे

मध्यप्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़, तेलंगाना और मिजोरम में विधानसभा चुनाव (State Election 2023) की तारीखों का ऐलान हो गया है। मध्यप्रदेश, राजस्थान, तेलंगाना और मिजोरम में इस बार भी एक चरण में ही चुनाव होंगे; वहीं, छत्तीसगढ़ में दो चरणों में मतदान कराया जाएगा।

चुनावी तारीखों की घोषणा करते हुए मुख्य चुनाव आयुक्त (सीईसी) राजीव कुमार ने बताया कि 17 अक्टूबर से वोटर लिस्ट जारी की जाएगी। 17 अक्टूबर से 30 नवंबर तक किसी को भी वोटर लिस्ट से संबंधित कोई भी बदलाव कराना है, तो वह करा सकता है। ये बीएलओ के जरिए या फिर सीधे वेबसाइट के जरिए करा सकते हैं। इन 5 राज्यों में 1.77 लाख पोलिंग बूथ बनाए जाएंगे। पोलिंग बूथ 2 किलोमीटर से दूर नहीं होगा। बुजुर्ग लोगों को घर से वोटिंग की सुविधा मिलेगी।

यह भी पढ़ें:  Jean Dreze and Bela Bhatia detained in Bilaspur

चुनावी घोषणा के बाद 31 अक्टूबर तक सभी पार्टियों को चंदे की जानकारी देनी होगी। तभी इनकम टैक्स में छूट मिलेगी। 5 राज्यों में 940 चेकपोस्ट बनाए जाएंगे। ताकि पैसे के लेनदेन और अन्य गतिविधियों पर नजर रखी जा सके। इन्हें राज्य पुलिस और विभिन्न सुरक्षा एजेंसियां संभालेंगी।

चुनावी तारीखें
मिजोरम : 7 नवंबर
मध्यप्रदेश : 17 नवंबर
छत्तीसगढ़ : 7 नवंबर और 17 नवंबर
राजस्थान : 23 नवंबर
तेलंगाना: 30 नवंबर

सभी राज्यों के नतीजे : 3 दिसंबर

अभी ये हैं सरकारें
मध्यप्रदेश : भाजपा
राजस्थान : कांग्रेस
छत्तीसगढ़ : कांग्रेस
तेलंगाना : बीआरएस
मिजोरम : मिजो नेशनल फ्रंट

सीटें
मिजोरम : 40 सीटें
मध्यप्रदेश: 230 सीटें
छत्तीसगढ़: 90 सीटें
राजस्थान : 200 सीटें
तेलंगाना: 119 सीटें

5 राज्यों में 679 विधानसभा सीटें हैं
इन राज्यों में 16.14 करोड़ से ज्यादा वोटर हैं।
इनमें से 8.2 करोड़ पुरुष और 7.8 करोड़ महिला वोटर हैं।
इन राज्यों में 60.2 लाख ऐसे वोटर हैं, जो पहली बार वोट करेंगे।

यह भी पढ़ें:  Bastar: पगलाया विकास, जल-जगंल-जमीन पर कब्जा और मारे जाते आदिवासी

मध्यप्रदेश में पिछला चुनाव
मध्य प्रदेश विधानसभा का कार्यकाल 6 जनवरी 2024 को समाप्त होने वाला है। राज्य में पिछला विधानसभा चुनाव नवंबर 2018 में हुआ था। तब कांग्रेस ने राज्य में सरकार बनाई थी और कमलनाथ मुख्यमंत्री बने थे। लेकिन मार्च 2020 में, 22 कांग्रेस विधायकों ने विधानसभा से इस्तीफा दे दिया था और ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए थे। इसके बाद राज्य सरकार गिर गई थी और मुख्यमंत्री कमल नाथ को इस्तीफा देना पड़ा था। इसके बाद भाजपा ने राज्य में सरकार बनाई थी और शिवराज सिंह चौहान मुख्यमंत्री बने थे।