83 साल की उत्साही आवाज आशा भोसले

8 सितंबर 2016 को राजस्थान पत्रिका में प्रकाशित
सचिन श्रीवास्तव 
आशा ताई आज उम्र के 84वें बसंत में प्रवेश कर रही हैं। वे हिंदुस्तानी संगीत की सबसे उत्साही आवाज रही हैं। लता मंगेशकर की ठहराव भरी गायिकी के कायल रहे लोकप्रिय संगीत के प्रेमियों के बीच जीवंतता, उत्साह और खिलंदड़े अंदाज को उन्होंने अपनी गायिकी से सुर दिए हैं। बीते सात दशकों में उन्होंने 20 से ज्यादा भारतीय और विदेशी भाषाओं में 12 हजार से ज्यादा गीत गाए हैं। वे फिल्मी गीतों के अलावा पॉप, गजल, भजन, शास्त्रीय गायन, लोकगीत, कव्वाली और रबीन्द्र संगीत को अपनी आवाज दे चुकी हैं। 
जन्म: 8 सितंबर 1933
गणपतराव भौसले से 1949 में शादी। 60 में अलग हुईं। 1980 में मशहूर संगीतकार आरडी बर्मन से विवाह। तीन बच्चे हेमंत, वर्षा और आनंद। 
7 बार फिल्मफेयर के सर्वश्रेष्ठ महिला गायिका अवार्ड से नवाजी गईं
25 से ज्यादा अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार और सम्मान
1997 में ग्रैमी अवार्ड के लिए नामांकित
2000 में दादा साहब फाल्के पुरस्कार से नवाजी गईं
2001 में फिल्मफेयर का लाइफ टाइम अचीवमेंट पुरस्कार मिला
2001 में गिनीज बुक ने आधिकारिक रूप से दुनिया में सबसे ज्यादा गीत गाने वाली गायिका का दर्जा दिया
2008 में पद्म विभूषण पुरस्कार दिया गया
2013 में 80 साल की उम्र में माई फिल्म में पहली बार एक्टिंग  की। दुनिया भर में अभिनय की तारीफ।
पहली शादी रही असफल
16 साल की उम्र में आशा भोसले ने परिवार की इच्छा के खिलाफ 31 वर्षीय गणपत राव भोसले से शादी की थी। गणपत राव लता मंगेशकर के निजी सचिव थे। यह विवाह असफल रहा।  1960 में आशा जी दो बच्चों और एक गर्भस्थ शिशु (आनन्द) के साथ मां के घर लौट आईं। 1980 में उन्होंने मशहूर संगीतकार राहुल देव बर्मन उर्फ पंचम दा से शादी की। यह साथ पंचम दा की अंतिम सांस तक बरकरार रहा। 
गायिकी में संघर्ष
बड़ी बहन लता मंगेशकर 50 के दशक की शुरुआत में फिल्म इंडस्ट्री में जम चुकी थीं, लेकिन इसका आशा जी को फायदा नहीं हुआ। तब गीता दत, शमशाद बेगम और लता जी का प्रभुत्व था। आशा जी को दोयम दर्जे की फिल्में ही मिलीं। 1952 में ‘संगदिलÓ ने उन्हें शोहरत दिलाई। इस फिल्म में उनकी गायिकी से प्रभावित होकर विमल राय ने आशा जी को ‘परिणीताÓ (1953) में मौक दिया। इसके बाद उनकी मुश्किलें कुछ कम हुईं।
राधिका आप्टे नाचेंगी आशा जी के गीतों पर
चर्चित अभिनेत्री राधिका आप्टे आशा ताई को खास अंदाज में जन्मदिन की बधाई देंगी। वे 8 सितंबर को आशा जी के गीतों आज रपट जाएं (नमक हलाल) और जाने दो न (सागर) पर किसी अवार्ड शो या इवेंट के बजाय सार्वजनिक स्थल पर लोगों के बीच परफॉर्म करेंगी। राधिका ने लंदन से डांस की प्रोफेशनल कोर्स किया है और वे बेहतरीन कंटम्प्रेरी डांसर हैं।
यह भी पढ़ें:  घट रहे सिनेमा के दर्शक